MODVAT & टैक्स स्कीम

मोडवॅट और टैक्स योजना 

मोडवॅट (संशोधित वैल्यू एडेड टैक्स) यह  केन्द्रीय उत्पाद शुल्क के नियमों के अधीन एक अनूठी प्रणाली है, जो अंतिम उत्पाद के निर्माण के लिए हैं, ड्यूटी का भुगतान कर प्राप्त अधिसूचित इनपुटस क्रेडिट का लाभ उठाने के लिए वस्तुओं के निर्माताओं को योग्य उत्पाद शुल्क पर जमा की गई ड्यूटी का भुगतान  इस तरह के क्रेडिट का, अंतिम उत्पादों से ड्यूटी को हटाने के दायित्व का उपयोग कर लाभ हासिल करने के लिए अनुमति देती हैं। मोडवॅट योजना का उद्देश्य अंतिम उत्पादों से इनपुट पर कर यानि कि दोहरे कराधान के व्यापक प्रभाव से बचना है। 

केंद्र सरकार ने मोडवॅट योजना की घोषणा मार्च 1986 में (वैल्यू एडेड टैक्स लागू किया) की, 1 मार्च 1994 से इस योजना को पेट्रोलियम उत्पादों के लिए बढ़ा दिया गया (एसबीपी / हेक्सेन / एचएसडी / एमएस को छोड़कर), जो अन्य उत्पाद शुल्क योग्य वस्तुओं के निर्माण के लिए एक निवेश के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं ।

उत्पाद शुल्क विभाग में पंजीकरण

केन्द्रीय उत्पाद शुल्क पेट्रोलियम उत्पादों पर तब लगता है जब वे रिफाइनरी या किसी बंद स्थल से निकलते है। पेट्रोलियम उत्पादों को औद्योगिक-ग्राहकों को भेजा जाता है जो इन उत्पादों को अन्य उत्पाद शुल्क योग्य माल के विनिर्माण में आगम या ईंधन के रूप में इस्तेमाल करते हैं। ये औद्योगिक-ग्राहक हमारे द्वारा भुगतान किये गए शुल्क के एमओडीवीएटी क्रेडिट का दावा कर सकते हैं और इस क्रेडिट को उनके अंतिम उत्पाद पर शुल्क के डेबिट के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

जब माल की आपूर्ति रिफाइनरी या घिरे हुए स्थल से होती है तब केन्द्रीय उत्पाद शुल्क नियम 52A, 1944 के अनुसार बीजक जारी करना पड़ता है। इस बीजक की अनुप्रति के आधार पर औद्योगिक-ग्राहक एमओडीवीएटी क्रेडिट प्राप्त कर सकता है। किन्तु जब औद्योगिक-ग्राहक को माल की आपूर्ति डिपो/प्रेषण इकाई/बॉटलिंग प्लांट से शुल्क भुगतानकृत स्टॉक से की जा रही हो तब औद्योगिक-ग्राहक को नियम 57G के तहत एक बीजक दिया जाना चाहिए, जिससे वह एमओडीवीएटी क्रेडिट का दावा कर सके। नियम 52A के तहत बीजक की विषय-वस्तु संलग्नक-I में तथा नियम 57G तहत बीजक की विषय-वस्तु संलग्नक-II में दिए गए हैं।

केन्द्रीय उत्पाद शुल्क नियम,1944 57G के तहत एमओडीवीएटी योग्य बीजक इनके द्वारा जारी किया जाना चाहिए:

  • विनिर्माता को अपने डेबिट से
  • उत्पाद शुल्कविभाग में पंजीकृत उत्पाद शुल्क योग्य माल के डीलर
  • आयातक को अपने गोदाम से
  • उत्पाद शुल्कविभाग में पंजीकृत आयातित माल के डीलर

प्रत्येक स्थल को नियम 57G के तहत बीजक जारी करने से पहले स्वयं को नियम 174 के तहत पंजीकृत कराना चाहिए। ऐसे स्थानों को विनिर्दिष्ट प्रारूप में एमओडीवीएटी बीजक जारी करने की अनुमति है। स्थल को नियम के तहत विनिर्दिष्ट रूप में प्राप्त तथा जारी किए रिकार्डों को सहेज कर रखना होगा तथा प्रत्येक माह के समापन के सात दिनों के भीतर उत्पाद शुल्क विभाग में एक मासिक रिटर्न दाखिल करना होगा।

एमओडीवीएटी बीजक को जारी करने के लिए उत्पाद शुल्क पंजीकरण प्राप्त करने के इच्छुक स्थल को फॉर्म R-1 में आवेदन को दो प्रतियों में केन्द्रीय उत्पाद शुल्क के रेंज सुपरिन्टेन्डेंट को जमा करना होगा। आवेदन फॉर्म में, जिस माल के लिए एमओडीवीएटी बीजक जारी किया जाना है उसका विवरण तथा भाड़ा शीर्ष संख्या का विवरण होना चाहिए। भाड़ा शीर्ष संख्या के साथ माल की सूची संलग्नक III में दी गयी है।

पंजीकरण प्रमाण पत्र मात्र उन्हीं अहातों के लिए वैध होगा जो विनिर्दिष्ट किये गए हैं और इसीलिए पंजीकरण के लिए आवेदन करते समय व्यवसायिक अहाते के विवरण और उत्पाद शुल्क योग्य माल की प्राप्ति, भंडारण और आगे की निकासी का विवरण बिना किसी असमानता के देना चाहिए। गोदाम पंजीकृत स्थानो के स्वामित्व में पूरी या आंशिक रूप से भाड़े पर, निजी गोदाम मालिक या सार्वजनिक सेक्टर के गोदाम से (पट्टे) लीज़ पर हो सकता है। एक कानूनी प्रबंध होना चाहिए जिससे कि केन्द्रीय उत्पाद शुल्क अधिकारी परिसर का तथा उसमें रखे माल का सत्यापन करने में समर्थ हो।

टैंकों में लाये गए द्रव और गैस उत्पादों के संबंध में गोदाम की हालत पर ज़ोर नहीं दिया जाता, बशर्ते कि ये माल ग्राहकों को उन्हीं टैंकरों में सुपुर्द किया जाए जिनमें इनकी प्राप्ति की गयी है।

पंजीकरण प्रमाण पत्र मात्र उसी परिसर व उद्देश्य के लिए वैध है, जिनका उल्लेख अनुसूची में है। पंजीकरण प्रमाण पत्र या इसकी एक प्रतिलिपि पंजीकृत परिसर के उस भाग में प्रदर्शित हो जहां से ये स्पष्ट दिखायी दे।

यदि कुछ जोड़ने या मिटाने या सुधार की आवश्यकता है,तो एक आवेदन के साथ रेंज सुपरिन्टेन्डेंट के पास जाना चाहिए। सुपरिन्टेन्डेंट, आवश्यक जांच के बाद, पहले से जारी हुए पंजीकरण प्रमाण पत्र में तदनुसार पृष्ठांकित कर देगा।

एमओडीवीएटी बीजक को पंजीकरण प्रमाण पत्र में उद्धृत उत्पाद शुल्क योग्य माल के संबंध में जारी किया जा सकता है। यदि कोई विशेष मद पंजीकरण प्रमाण पत्र में विनिर्दिष्ट नहीं है, किन्तु स्थल एमओडीवीएटी बीजक जारी करने का इरादा रखता है तो वह तब तक ऐसा नहीं कर सकता, जब तक कि रेंज सुपरिन्टेन्डेंट पंजीकरण प्रमाण पत्र में संशोधन न करे। गैर-विनिर्दिष्ट उत्पाद शुल्क योग्य माल के संबंध में जारी एमओडीवीएटी बीजक अवैध दस्तावेज है और ऐसे एमओडीवीएटी बीजक पर ग्राहक को शुल्क का क्रेडिट नहीं मिलेगा।

यदि स्थल उत्पाद शुल्क विभाग में पंजीकृत ऑफिस परिसर को किसी अन्य परिसर में शिफ्ट करना चाहता है तो नए परिसर के लिए नया पंजीकरण प्रमाण पत्र प्राप्त करना और रेंज सुपरिन्टेन्डेंट को पुराना पंजीकरण प्रमाण पत्र सौंपना अनिवार्य है।

अधिनियम या नियम के किसी भी उल्लंघन की स्थिति में उत्पाद शुल्क अधिकारी द्वारा पंजीकरण प्रमाण पत्र वापस लिया जा सकता है या निलंबित किया जा सकता है।

पंजिका अनुरक्षण

प्रत्येक पंजीकृत स्थल को फॉर्म RG-23D में स्टॉक खाता बनाना चाहिए, इसका प्रारूप संलग्नक IV में दिया है।

पंजीकृत स्थल से एमओडीवीएटी क्रेडिट पास करने की दो स्थितियां हैं। पंजीकृत स्थान नियम 52A बीजक के तहत रिफाइनरी/इन्स्टालेशन से एक प्रेषण प्राप्त करता है। फिर यह नियम 57G के तहत बीजक जारी करता है। दूसरी स्थिति में पंजीकृत स्थल नियम 57G के तहत बीजक/पीडीएन की क्षमता पर अन्य पंजीकृत स्थल से प्रेषण प्राप्त करता है।

जब भी, नियम 52A बीजक या 57G बीजक के तहत प्रेषण प्राप्त करता है और इस संबंध में स्थल एक या अधिक एमओडीवीएटी योग्य बीजक जारी करने का प्रस्ताव रखता है तो स्थान को ऐसे सभी प्रेषणों का और इनसे संम्बंधित समस्त लेन-देन का खाता RG-23D पंजिका में पूरा रखना चाहिए।

किसी भी ऐसे प्रेषण के संबंध में जिसका एक भाग एमओडीवीएटी योग्य बीजक के तहत और दूसरा भाग गैर - एमओडीवीएटी योग्य बीजक के तहत बेचा गया है तो गैर- एमओडीवीएटी योग्य बीजक के तहत की गयी बिक्री का भी विवरण विनिर्दिष्ट पंजिका RG-23 में दिन के अंत में एक सुदृढ़ प्रविष्टि द्वारा करना चाहिए, जिसमें उस मात्रा तथा बीजक संख्याओं का उल्लेख हो। गैर- एमओडीवीएटी योग्य बीजक को विनिर्दिष्ट प्रारूप में जारी करने की आवश्यकता नहीं है।

पंजीकृत स्थल को नियम 52A बीजक 57G बीजक के तहत प्राप्त उन प्रेषणों की प्रविष्टि RG-23D पंजिका में करने की आवश्यकता नहीं है जिनके लिए एमओडीवीएटी योग्य बीजक जारी करने का प्रस्ताव नहीं है।

पंजीकृत स्थल को RG-23D पंजिका का अनुरक्षण उत्पाद शुल्क योग्य माल की प्राप्ति तथा जारी किए जाने वाले दिन के अंत में करना चाहिए और ऐसी पुस्तिका, खाते या पंजिका को उचित रूप में अनुरक्षित करना चाहिए, साथ ही किसी भी प्रविष्टि को रद्द करना, मिटाना या बदलना नहीं चाहिए, सिवाय किसी त्रुटि सुधार के। स्थल को पुस्तिका, खाते या पंजिका को सदैव उत्पाद शुल्क अधिकारी द्वारा निरीक्षण के लिए तैयार रखना चाहिए और किसी भी उत्पाद शुल्क अधिकारी को इसका निरीक्षण करने की और जैसा वह सही समझे टिप्पणी लिखने की अनुमति देनी चाहिये।

पंजीकृत स्थल RG-23D पंजिका में तभी प्रविष्टि कर सकती है जब उत्पाद शुल्क योग्य माल के साथ एमओडीवीएटी दस्तावेज हों। इन दस्तावेजों की अनुपस्थिति में, पंजीकृत स्थल को पंजिका में विवरण नहीं भरने चाहिए।

एमओडीवीएटी क्रेडिट के लिए प्रासंगिक परिवहन दस्तावेज स्थल के रिकार्ड में होने चाहिए, दोनों का ही, जब माल प्राप्त होता है और जब यह माल इसी श्रंखला में अन्य को दिया जाता है जो आगे चलकर एमओडीवीएटी क्रेडिट का दावा करेंगे।

स्थल के लिए स्वयं को उत्पाद शुल्क विभाग में पंजीकृत कराने के साथ ही एमओडीवीएटी बीजक जारी करने हेतु, यह अनिवार्य है कि खरीद उचित दस्तावेज पर हो जिससे कि यह एमओडीवीएटी लाभ माल के खरीददारों तक पहुंच सके। इन दस्तावेजों के साथ माल की रसीद भी होनी चाहिए। दस्तावेज जिनके आधार पर एमओडीवीएटी बीजक जारी किये जा सकते हैं:

  • यदि खरीद सीधे रिफाइनरी से है तो रिफाइनरी द्वारा जारी नियम 52A के तहत बीजक की प्रतिलिपि।
  • यदि माल किसी घिरे हुए स्थल से प्राप्त किया गया है तो नियम 52A के तहत निकासी करने वाले स्थल द्वारा जारी PDN की प्रतिलिपि।
  • यदि खरीद एक अन्य स्थल से प्राप्त हुआ है जो कि शुल्क चुकता स्थल है तब नियम 57G के तहत निकासी करने वाले स्थल द्वारा जारी पीडीएन की प्रतिलिपि।
  • यदि खरीद आयातित माल है तब माल के साथ आने वाली बिल प्रविष्टि की तीसरी प्रतिलिपि।

पंजिका RG-23D पर उत्पाद शुल्क अधिकारी के प्रमाणीकरण की आवश्यकता इसे इस्तेमाल में लाने से पहले नहीं है।

पंजिका RG-23D में प्रत्येक वैध बीजक/पीडीएन के समक्ष जारी पक्ष में अलग प्रविष्टि हो। यदि ऐसे दस्तावेज में एक से अधिक पंजीकृत वस्तु हैं, तो पंजिका के प्राप्ति अंश में अलग पृष्ठ पर का प्रयोग करके अलग प्रविष्टि करनी चाहिए।

पंजीकृत स्थल को पुस्तिका,खाते या पंजिका को सदैव केन्द्रीय उत्पाद शुल्क अधिकारी द्वारा निरीक्षण के लिए तैयार रखना चाहिए। इस उत्पाद शुल्क अधिकारी को इन रिकार्डों में कोई भी टिप्पणी लिखने की अनुमति है। केन्द्रीय उत्पाद शुल्क अधिकारी इन रिकार्डों में से कोई भी निष्कर्ष निकालने के लिए सशक्त है।

केन्द्रीय उत्पाद शुल्क अधिकारी द्वारा मांगे जाने पर पंजीकृत स्थल को अपने रिकॉर्ड उसके कार्यालय में भेजने चाहिए।

पंजीकृत स्थल को नियम 57GG के तहत विनिर्दिष्ट दस्तावेजों को पाँच साल की अवधि के लिए संभाल कर रखना चाहिए और जब भी माँगा जाए तो केन्द्रीय उत्पाद शुल्क अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना चाहिए। दस्तावेज जिन्हें पाँच साल की अवधि के लिए संभाल कर रखना चाहिए उनकी सूची नीचे दी गयी है:

  • दस्तावेज जैसे नियम 52A या 57G के तहत आने वाले बीजक/पीडीएन की मूल तथा प्रतिलिपियां
  • दस्तावेज जैसे एमओडीवीएटी बीजक की तीसरी प्रतिलिपि, RG23D पंजिका,मासिक रिटर्न तथा पंजीकृत स्थल द्वारा बनाए गए अन्य सम्बंधित रिकॉर्ड्स।
  • केन्द्रीय उत्पाद शुल्क क़ानून के तहत बनाए कोई भी दस्तावेज और सम्बंधित पत्राचार।

दस्तावेज जैसे पंजीकरण के लिए आवेदन और पंजीकरण प्रमाण पत्र को पंजीकृत स्थल द्वारा स्थायी रूप से संरक्षित करके रखना चाहिए। यहाँ तक कि पंजीकरण प्रमाण पत्र में किसी सूचना को जोड़ने या मिटाने के लिए किया गया आवेदन भी स्थायी रूप से संरक्षित करके रखना चाहिए।

यदि कोई पंजीकृत स्थल या डीलर जानबूझ कर, खरीददार को उत्पाद शुल्क योग्य माल के संबंध में शुल्क क्रेडिट उपलब्ध कराने के इरादे से जारी किये गए बीजक में गलत या अनुचित विवरण भरता है, तो वह दंड के योग्य होगा और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क नियमों के नियम 173Q के अनुसार दंडनीय कार्यवाही के योग्य होगा।

एमओडीवीएटी बीजक की आवश्यकताएं

पंजीकृत स्थल के लिए एमओडीवीएटी ग्राहकों पर प्रभावी बिक्रियों के लिए विनिर्दिष्ट प्रारूप व रंग में बीजक जारी करना आवश्यक है। प्रारूप संलग्नक II में दिया है। 1.8.95 से नियम 57G के तहत जारी एमओडीवीएटी बीजक भिन्न-भिन्न रंगों में होने चाहिए: मूल सफ़ेद में, प्रतिलिपि गुलाबी में, तीसरी प्रति पीले में और चौथी प्रति हरे में।

पंजीकृत स्थल द्वारा उत्पाद शुल्क योग्य माल की निकासी के लिए प्रत्येक तरह की केवल एक बीजक पुस्तिका इस्तेमाल की जायेगी जब तक कि अन्यथा सहायक आयुक्त द्वारा विशेष अनुमति न दी जाए।

कम से कम चार प्रतिलिपियां बनानी चाहिए। बीजक की प्रतिलिपियां सबसे ऊपर मोटे बड़े अक्षरों में इस प्रकार चिह्नित होनी चाहिए:

  • मूलप्रति पर ‘खरीददार के लिए’ अंकित करना चाहिए
  • प्रतिलिपि पर ‘ट्रांसपोर्टर के लिए’ (एमओडीवीएटी क्रेडिट पाने के लिए प्रयुक्त होने योग्य) अंकित करना चाहिए
  • तीसरी पर ‘केन्द्रीय उत्पाद शुल्क के लिए तीसरी’ अंकित करना चाहिए
  • चौथी पर ‘पंजीकृत व्यक्ति के लिए’ अंकित करना चाहिए
  • अतिरिक्त प्रतिलिपियों पर ‘केन्द्रीय उत्पाद शुल्क के लिए नहीं’ अंकित करना चाहिए

यदि स्थल को किसी काम के लिए चार से अधिक प्रतियों की आवश्यकता है तो रेंज सुपरिन्टेन्डेंट को एक प्रति भेज कर न्यायिक सहायक आयुक्त को सूचित करके ऐसा किया जा सकता है।

स्थल द्वारा जारी प्रत्येक एमओडीवीएटी बीजक पर वर्ष की 1 अप्रैल से आरम्भ हो कर मुद्रित क्रम संख्या होनी चाहिए। बीजक पुस्तिका का प्रत्येक पृष्ठ कम्पनी के अधिकारी द्वारा पूर्व-प्रमाणित होना चाहिए निदेशक मंडल के प्रस्ताव द्वारा विधिवत अधिकृत होना चाहिए। निदेशक मंडल के प्रस्ताव की एक प्रतिलिपि संलग्नक V के रूप में लगी है। ऐसा प्रमाणन एमओडीवीएटी बीजक के प्रत्येक पृष्ठ के दायें कोने पर हस्ताक्षर द्वारा किया जाना चाहिए, हस्ताक्षर के नीचे उस व्यक्ति का नाम व पद लिखा होना चाहिए जों बीजक को प्रमाणित कर रहा है।

बीजक जारी करने वाले पंजीकृत स्थल का नाम, पता और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क पंजीकरण संख्या, न्यायिक क्षेत्र/डिवीज़न/कमिश्नरी और कम्पनी की आयकर संख्या और बिक्रीकर पंजीकरण संख्या 57GG बीजक पर पहले से छापा होना चाहिए। साथ ही, बीजक पुस्तिका की पहली और आखिरी कॉपी केन्द्रीय उत्पाद शुल्क न्यायिक रेंज सुपरिंटेंडेंट द्वारा पूर्व-प्रमाणित होनी चाहिए। रेंज सुपरिंटेंडेंट द्वारा ऐसा पूर्व-प्रमाणन कम्प्यूटर द्वारा बने बीजक के लिए आवश्यक नहीं है।

इस्तेमाल में लाने से पहले बीजक की क्रमसंख्या की सूचना न्यायिक सहायक कमिश्नर को देनी चाहिए और पंजीकृत स्थल द्वारा इस सूचना की तिथि सहित पावती प्राप्त और रखी जा सकती है।

कम्प्यूटर द्वारा बने बीजक और रिकॉर्ड भी मान्यता प्राप्त हैं। इस मामले में,आने वाली तिमाही में प्रयुक्त होने वाली क्रमसंख्या की सूचना सहायक कमिश्नर को देनी चाहिए। जैसे ही बतायी क्रम संख्याएं खत्म हो जाएं, एक नयी सूचना भेजी जा सकती है। ऐसे पंजीकृत स्थल को सहायक कमिश्नर को सूचना के लिए प्रारूप सहित प्रयुक्त सॉफ्टवेयर का विवरण भी भेजना चाहिए, यदि वह माँगता है।

एमओडीवीएटी बीजक की मूल प्रति खरीददार को भेजी जानी चाहिए और उसकी प्रतिलिपि को उस प्रेषण को ले जा रहे वाहन के साथ भेजना चाहिए। मात्र खरीददार के आधार पर। मात्र बीजक की प्रतिलिपि के आधार पर ही एमओडीवीएटी क्रेडिट खरीददार को उपलब्ध होगा। तीसरी प्रति मासिक रिटर्न के साथ ही रेंज सुपरिंटेंडेंट को भेजी जानी चाहिए। बीजक की चौथी प्रति को स्थल पर कार्यालय रिकॉर्ड के लिए रखना चाहिए। अतिरिक्त प्रतियाँ बीजक के पृष्ठ पर अंकित उद्देश्यों के लिए प्रयुक्त होने चाहिए।

नियम 57G के तहत बीजक जारी करने वाले लोकेशनों को न्यायिकार में फ़ाइल करना चाहिए।