पेट्रोटेक 2019 में बीपीसीएल पवेलियन का शानदार प्रदर्शन

15 Feb 2019 | बीपीसीएल

पेट्रोटेक का XIII संस्करण, एक द्विवार्षिक समारोह, पेट्रोटेक सोसाइटी द्वारा एमओपी और एनजी के तत्वावधान में 10 से 12 फरवरी, 2019 के बीच इंडिया एक्सपो मार्ट, ग्रेटर नोएडा में आयोजित किया गया था। इस सम्मेलन और प्रदर्शनी में 70 से अधिक देशों के 7000 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया। सम्मेलन का उद्घाटन भारत के माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने किया।
 
अपने कॉर्पोरेट पवेलियन में हमने व्यावसायिक संगठनों के लिए सुनहरे अवसरों और विभिन्न व्यवसायों और रिफाइनरियों की पेशकश का प्रदर्शन किया। भारत और विदेश के कई वरिष्ठ प्रतिनिधियों ने बीपीसीएल पवेलियन का दौरा किया। विज़िटर्स ने भारतीय ऊर्जा क्षेत्र के विकास में बीपीसीएल द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका की सराहना की और हमारे अधिकारियों के साथ बातचीत भी की।
 
हमारे स्टॉल को भारत में ऊर्जा के भविष्य के लिए माननीय प्रधान मंत्री के देखे गए सपनों के अनुसार इन चार आधार-स्तंभों पर बनाया गया था -

ऊर्जा उपयोग
ऊर्जा संरक्षण
ऊर्जा स्थिरता
ऊर्जा दक्षता

हमने 2जी बायोफ्यूल रिफाइनरी और उरण क्रायोजेनिक एलपीजी प्लांट के मॉडल रखे थे। हमारे अधिकारियों ने प्रतिनिधियों और विज़िटर्स को उनके परिचालन के बारे में गहरी जानकारी दी।
 
विज़िटर्स से जुड़े रहने के लिए निम्नलिखित गतिविधियाँ रखी गई थीं -

• वीडियो वॉल पर वर्चुअल रियालिटी गेम
• ऐंटी-ग्रेविटी फोटो बूथ
• सोशल मीडिया प्लग इन्स के साथ डिजिटल स्लिंग शॉट
• प्रतिभागियों के लिए पुरस्कार के साथ पेट्रोलियम क्षेत्र पर ऑनलाइन क्विज़
 
हमारे पवेलियन में चल रही ये सभी गतिविधियाँ लोगों के बीच ज़बरदस्त हिट थीं।
 
मैक टीम ने लॉन्च किए गए नए पैक्स को भी प्रदर्शित किया। बीपीसीएल-एसबीआई कार्ड टीम ने विज़िटर्स को इस कार्ड के फ़ायदों के बारे में बताया।
 
हमारे पवेलियन पर आनेवाले सभी लोगों के साथ ही सीएमडी, निदेशकों, सीवीओ, संयुक्त सचिव- अंतर्राष्ट्रीय सहयोग, स्वतंत्र निदेशक, व्यापार प्रमुखों, ईडी और अन्य प्रतिनिधियों ने खुले दिल से प्रशंसा की।
 
हमारा स्टॉल सबसे अनोखा नज़र आ रहा था और प्रदर्शनी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए विजेता बनकर उभरा।